About Chandni Chowk (Shahjahanabad/Old Delhi)

यह चौक शाहजहानाबाद शहर का एक महत्वपूर्ण स्थल था, जिसकी स्थापना १७वी शताब्दी के मध्य में हुई थी | चौक अष्टकोणीय था और उसके बीचोबीच एक ताल था | ताल के जल मैं चांदनी प्रतिबिंबित होती थी जिसके कारण इस चौक का नाम चांदनी चौक पड़ा | यहाँ स्तिथ दुकानों में उच्च कोटि की वस्तुएं जैसे कपडे, हथियार, चीनी-मिटटी और कांच की वस्तुओं की बिक्री होती थी | यह चौक अपने कहवाख़ानों के लिए भी जाना जाता था, जहा आज कल की ही तरह लोग बैठ कर कॉफ़ी का मज़ा लेते थे | दक्षिण की और एक हमाम या सार्वजनिक स्नानागार भी था | उत्तर की और, शाहजहां की पुर्त्री जहाँआरा द्वारा बनवाई गई एक बड़ी सराय थी, जहाँ शहर में आने वाले अमीर व्यापारी रहते थे |

१८५७ के विद्रोह के बाद चौक बहुत बदल गया | अंग्रेज़ो ने शाही सम्पतियों को जबत करके सराय और हमाम जैसे कई इमारतो को ध्वस्त कर दिया | सराय के स्थान पर एक टाउन हाल बनाया गया और एक नई सड़क, जिसका नाम ही नई सड़क हो गया | चौक के बीच में घंटाघर का निर्माण किया गया था, लेकिन १९५१ में यह ढह गया | २०वी सदी के आरम्भ में चांदनी चौक में एक ट्राम शुरू की गई, लेकिन १९६० के दशक में इसे बंद कर दिया गया था |

(Source: Display Board)

This square was an important site of the city of Shahjahanabad, which was established/founded in the middle of the 17th century. The square was octagonal and had a pool in the middle. The moonlight was reflected in the water of the pool, due to which this square was named Chandni Chowk. The shops located here used to sell high-quality items like clothes, weapons, porcelain, and glass items. This square was also known for its Kahwakhanas, where people used to sit and enjoy coffee just like today. To the south, there was also a hammam or public bath. To the north, there was a large inn built by Shah Jahan’s daughter Jahanara, where the wealthy merchants who came to the city lived.

After the revolt of 1857, the square changed a lot. The British confiscated the royal properties and demolished many buildings like Sarai and Hamam. In place of the inn, a town hall was built and a new road, the name of which became the new road (नई सड़क). The clock tower was built in the middle of the square, but it collapsed in 1951. A tram was introduced in Chandni Chowk in the early 20th century but was discontinued in the 1960s.

(English translation by Google Translate)

Leave a Reply